Sunday, January 29, 2023
spot_imgspot_img

कैसे बचे हार्ट की बीमारियों से, जानिए सेहत से जुड़ी जरुरी बातें

सबसे पहले यदि आपके पास , Ecosprin , Aspirin, Disprin है, तो आप इसमें से एक गोली प्रभावित रोगी को दे सकते है । आपको बता दे कि Disprin, Ecosprin , Aspirin ये दवाएं रक्त के थक्के को जमने नही देती । अगर कोई हार्ट Heart का मरीज है तो उसको sorbitrate 5mg की टेबलेट जीभ के नीचे रखनी चाहिए ताकि दर्द की तीव्रता कम हो सके। यदि यह सब लक्षण किसी व्यक्ति में नजर आते है प्रथमदृष्टया यह मान लेना चाहिए कि उसको हार्ट अटैक के लक्षण है , उसको तुरंत नजदीकी अस्पताल मैं ले जाकर उपचार करना चाहिए हार्ट अटैक के लक्षण मिलने पर विशेष ध्यान रखना है की कोई भी दवाई देने से पूर्व किसी प्रशिक्षित डॉक्टर से सलाह अवश्य ले लें । जब अपने अंदर शारीरिक बदलाव दिखे सावधान हो जाएं। इसे काम के प्रेशर के चलते होने वाली कमजोरी या फिर कोई दूसरा कारण समझ कर अनदेखी ना करें तुरंत अपने नजदीकी अस्पताल या डॉक्टर से तुरंत संपंर्क करें। किसी तरह के पछताने से अच्छा है कि समय रहते डॉक्टर से सुझाव लें और सुरक्षित रहें।

हार्ट के मरीज को क्या खाना चाहिए

डाइट हार्ट के मरीज को सामान्य रूप में संतुलित और पौष्टिक खाना दिया जाना चाहिए । खाना हल्का ओर बिना तेल घी का हो विशेष ध्यान रखना चाहिए । खाना धीरे धीरे चबाकर खाना चाहिए । ताकि मरीज का मेटाबॉलिज्म और शारीरिक सक्रियता के अनुसार ही उचित कैलोरी ही शरीर मे जाए । संतुलित और पौष्टिक खाना वजन नियंत्रण और ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। हार्ट प्रॉब्लम पीड़ित को आहार में फल, सलाद, हरी सब्जियाँ, साबुत अनाज शामिल करना चाहिए। निर्धारित व्यायाम योग : निर्धारित व्यायाम हमारे शरीर और सेहत को स्वस्थ रखने में बहुत महत्वपूर्ण है। नियमित व्यायाम न केवल आपके दिल को स्वस्थ रखने में मदद करता है, बल्कि कई रोग से शरीर को दूर रखने में मदद करता है । 24 घण्टो में कम से कम 30 से 40 मिनट के लिए कोई भी व्यायाम करें या आप कम से कम 30 मिनट के लिए पार्क , खुली हवा हरी भरी जगहों पर जा सकते हैं। ऐसा करने से कोलेस्ट्रॉल स्तर पर नियंत्रित रहेगा। आमतौर पर देखा गया है कि जो लोग active रहते है उनको दिल का दौरा पड़ने का खतरा कम रहता है।

हृदय की बीमारियों को रोके इन 5 उपायों से

1 ◆नियमित रूप से भोजन में अधिक सलाद, हरी सब्जियां एवं फलों का सेवन करें।
2 ◆ अगर आप मधुमेह से पीड़ित हैं तो शुगर को नियंत्रित में रखें । आपका fasting blood sugar 100 mg/ DL से नीचे होना चाहिए और खाने के दो घंटे बाद उसे 140 mg/ DLसे नीचे होना चाहिए।
3 ◆अपने कोलेस्ट्रोल स्तर को 130 mg/ DL होना चाहिये कोलेस्ट्रोल के मुख्य स्रोत जीव उत्पाद हैं । इससे जितना हो सके बचना चाहिए।
4 ◆ Blood pressure 120/80 mghg के आसपास रहे तो ठीक माना जाता है । बढ़ा हुआ Blood pressure 130/ 90 से blockage (अवरोध) को दुगनी रफ्तार से बढ़ाता है ।
5 ◆ अपने तनावों जितना हो सके कम करे । इससे हृदय रोग को रोकने में मदद मिलेगी ।

- Advertisement -spot_imgspot_img

ताजा खबरे