Thursday, June 20, 2024

सीएम जयराम ने धर्मशाला में की घोषणा, हिमाचल में अब पांच रुपये लगेगा न्यूनतम बस किराया

- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_img

धर्मशाला। हिमाचल प्रदेश में अब सरकारी और निजी बसों में सात की जगह पांच रुपये न्यूनतम किराया लगेगा। चुनावी वर्ष को देखते हुए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने धर्मशाला कॉलेज के सभागार में राज्यस्तरीय कार्यक्रम ‘नारी को नमन’ के दौरान गुरुवार को यह घोषणा की। अब सरकार की ओर से इसकी जल्द अधिसूचना जारी की जाएगी। इसके बाद लोगों को यह लाभ मिलेगा।  मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की जनता लंबे समय से न्यूनतम बस किराया कम करने की मांग कर रही थी। ऐसे में अब शीघ्र ही नई किराया दर एचआरटीसी और निजी बसों में लागू हो जाएगी। इससे पहले मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने गुरुवार को इसी कार्यक्रम के दौरान महिलाओं के लिए हिमाचल पथ परिवहन निगम(एचआरटीसी) की बसों में 50 फीसदी किराये की छूट का शुभारंभ किया।

न्यूनतम बस किराये को लेकर मिली हैं शिकायतें
मौजूदा समय में न्यूनतम बस किराया सात रुपये होने के चलते सूबे में चल रही निजी और सरकारी बसों में कुछ कंडक्टर सवारियों से 10 रुपये लेकर 3 रुपये बकाया नहीं लौटा रहे। मुख्यमंत्री सेवा संकल्प 1100 पर भी लोग इसे लेकर मुख्यमंत्री को शिकायतें मिली हैं। ऐसे में अब जनता को राहत देकर सरकार ने न्यूनतम बस किराया पांच रुपये करने का फैसला लिया है, जो अधिसूचना जारी होने के साथ ही लागू हो जाएगा।

चार साल में सरकार ने दो बार बढ़ाया किराया
मौजूदा सरकार ने 4 साल के कार्यकाल में दो बार बस किराया बढ़ाया। सितंबर 2018 में सामान्य किराये में 20 से 25 फीसदी बढ़ोतरी कर न्यूनतम किराया 3 से 6 रुपये कर दिया था। हालांकि लोगों के विरोध के बाद अगले ही महीने अक्तूबर में न्यूनतम किराया 5 रुपये कर दिया गया। इसके बाद कोरोना काल में जुलाई 2020 में एक बार फिर बस किराये में 25 फीसदी की बढ़ोतरी कर दी गई और न्यूनतम किराया 5 से बढ़ा कर 7 रुपये कर दिया गया था। अब इसे घटाकर पांच रुपये किया गया।

प्रदेश में यह है प्रति किलोमीटर किराये की दरें
पहाड़ी क्षेत्र : 2.19 रुपये प्रति किलोमीटर
मैदानी क्षेत्र: 1.40 रुपये प्रति किलोमीटर

ताजा खबरे