Monday, April 22, 2024

गैंगस्टर गोल्डी बराड़ रंगदारी मामला! 4 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली, चिकित्सक संघ ने दी चेतावनी

- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_img

हरिद्वार के चिकित्सक को गोल्डी बराड़ के नाम से मिली धमकी के मामले में पुलिस 4 दिन बाद भी आरोपियों तक नहीं पहुंच पाई है। मामले में पूलिस ने चिकित्सक परिवार को सुरक्षा तो मुहैया करा दी है। लेकिन इसके बाद भी चिकित्सक को धमकी भरे फोन कॉल्स आ रहे हैं। पूरे प्रकरण में लक्सर चिकित्सक संघ ने पुलिस को धमकी दी है। उनका कहना है कि अगर जल्द मामले का खुलासा नहीं हुआ तो सड़क पर उतरकर पुलिस प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किया जाएगा।

बता दें कि 29 जून को लक्सर के एक चिकित्सक त्रिलोक सिंह चीमा को गोल्डी बराड़ के नाम से धमकी मिली। आरोपी ने चिकित्सक से लाखों रुपए की डिमांड रखी। डिमांड पूरी नहीं करने पर परिवार को जान से मारने की धमकी दी। चिकित्सक ने मामले की जानकारी पुलिस प्रशासन को दी। पुलिस प्रशासन की ओर से चिकित्सक को सुरक्षा मुहैया कराई गई। लेकिन इसके बाद भी चिकित्सक को लगातार धमकी भरे फोन कॉल्स आते रहे। मामले में पुलिस की ओर से अभी तक कोई बड़ी कार्रवाई नहीं की गई है। चिकित्सक संघ का कहना है कि अगर एक-दो दिन के भीतर पूरे मामले का खुलासा नहीं किया गया तो चिकित्सक संघ को अपनी लड़ाई लड़ने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। इसके गंभीर परिणाम होंगे और पूरी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी। चिकित्सक संघ ने साफ शब्दों में कहा कि अगर 2 दिन में पूरे मामले का खुलासा नहीं किया गया तो चिकित्सक संघ पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत से मिलकर आगामी रणनीति तैयार कर अपनी लड़ाई लड़ने के लिए मैदान में उतर जाएगा।

ताजा खबरे