Sunday, January 29, 2023
spot_imgspot_img

बागेश्वर में प्रशिक्षकों ने पृथक कैडर की नियमावली जल्द जारी करने की मांग को लेकर किया प्रदर्शन

बागेश्वर। अल्मोड़ा जिले में जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान के प्रशिक्षकों ने बांह में काली पट्टी बांधकर प्रदर्शन किया, दरअसल प्रशिक्षकों का कहना है कि पृथक कैडर की नियमावली जल्द जारी की जाए है, साथ ही खुली विज्ञप्ति के माध्यम से रिक्त पदों पर नियुक्ति भी की जाए।

प्रशिक्षकों का कहना है कि प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार के निर्देश का पालन करते हुए वर्ष 2013 में शिक्षक प्रशिक्षण संवर्ग का शासनादेश तो जारी किया लेकिन इसकी नियमावली को अब तक जारी नहीं किया गया है। टीचर एडुकेटर फोरम के सचिव डॉ. प्रेम सिंह मावड़ी ने कहा कि नियमावली जारी नहीं होने के बावजूद केंद्र पुरोनिधानित शिक्षा के तहत बजट प्राप्त करने के लिए वास्तविक तथ्यों को छुपाया जा रहा है और हर साल करोड़ों का बजट हासिल किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि डायट में सुगम संस्थानों में ही स्थानांतरण और पदस्थापन होने से दूरस्थ डायटों में कार्मिकों की कमी बनी हुई है। पिछले दो महीने के दौरान 36 शिक्षकों को सिर्फ पहुंच के आधार पर डायट एवं एससीईआरटी देहरादून में स्थानांतरित कर दिया गया जो वर्तमान में भी जारी है। ठोस नियमावली नहीं होने से वर्तमान में खुली विज्ञप्ति के माध्यम से चयनित प्रशिक्षकों को परेशानी उठानी पड़ रही है। प्रशिक्षकों ने जल्द नियमावली जारी कर इन संस्थानों में पूर्ण योग्यता रखने वालों को समायोजित करते हुए रिक्त पदों पर खुली विज्ञप्ति के माध्यम से भर्ती कराने की मांग की।

अल्मोड़ा में प्रदर्शन करने वालों में टीचर एजुकेटर फोरम (टीईएफ) संयोजक गोपाल गिरी गोस्वामी, ललित मोहन पांडे, राकेश मिश्रा, डॉ. हरीश चंद्र जोशी, डॉ. भुवन पांडेय, डॉ. प्रकाश पंत मौजूद थे। वहीं बागेश्वर में डॉ. शैलेंद्र धपोला, डॉ. बीडी पांडेय, डॉ. संजय गुरुरानी, डॉ. कुंदन सिंह रावत, डॉ. सीएम जोशी, डॉ. दयासागार, डॉ. राजीव जोशी, कैलाश प्रकाश चंदोला आदि मौजूद रहे।
- Advertisement -spot_imgspot_img

ताजा खबरे