Friday, June 14, 2024

घर के वफादार ने निभाया अपना फर्ज! बच्ची की जान बचाने के लिए गुलदार से भिड़ा, कुत्ते की मौत

- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_img

डोईवाला के ग्राम पंचायत मारखम ग्रांट के बुल्लावाला में 11 साल की बच्ची को गुलदार से बचाते हुए कुत्ते की मौत हो गई। जानकारी के अनुसार रक्षाबंधन के दिन बच्ची ने अपने घरेलू कुत्ते को राखी बांधी थी। जिसका फर्ज निभाते हुए शाम के समय 7:30 बजे के करीब कुत्ते संग आंगन में खेल रही बच्ची पर गुलदार के झपटने से पहले ही कुत्ते ने गुलदार पर हमला बोल दिया। जिस पर लंबे संघर्ष के बाद गुलदार ने कुत्ते को मार दिया लेकिन बच्ची की जान बच गई। वहीं आबादी क्षेत्र में राजा जी टाइगर रिजर्व से लगातार गुलदार के धमकने से ग्रामीणों में डर का माहौल बना हुआ है। ग्रामीणों का आरोप है कि वन विभाग इस मामले में निष्क्रिय बना हुआ है और कोई ध्यान नहीं दे रहा है, जिससे कभी भी कोई बड़ी जनहानि हो सकती है। सामाजिक कार्यकर्ता मनोज कांबोज ने बताया कि बुल्लावाला में महेंद्र सिंह थापा के घर में यह घटना घटी है। इसके बाद ग्रामीण डरे हुए हैं। वहीं वन विभाग की ओर से अभी तक किसी भी कर्मचारी अधिकारी ने आकर मौके का निरीक्षण नहीं किया है।

उत्तराखंड में गुलदार का आतंक बना हुआ है। दो दिन पहले अमस्यारी क्षेत्र में फिर से गुलदार दिखने से ग्रामीण डरे हुए हैं। जिलाधिकारी ने राजकीय प्राथमिक विद्यालय और राजकीय इंटर कालेज अमस्यारी 30 अगस्त को एक दिन के लिए बंद रखने का आदेश दिया था। गुलदार की दहशत के कारण अभिभावकों ने जिलाधिकारी से अनुरोध किया था। गरुड़ तहसील क्षेत्र के इंटर कालेज अमस्यारी में 24 अगस्त सुबह सवा सात बजे गुलदार ने स्कूल जा रही भिलकोट की छात्रा ज्योति पर हमला कर दिया था। उसके साथ दिव्या भी थी। उसी गांव के भाष्कर ने गुलदार के हमले को नाकाम किया। वहां वर्तमान में भी गुलदार का आतंक बना है।

 

ताजा खबरे