Sunday, January 29, 2023
spot_imgspot_img

जीएसटी इंटेलिजेंस महानिदेशालय अहमदाबाद ने कानपुर में की छापेमारी! 177 करोड़ रुपये की बेहिसाब नकदी बरामद, मचा हड़कंप

नई दिल्ली। जीएसटी इंटेलिजेंस महानिदेशालय (डीजीजीआई) की अहमदाबाद इकाई ने कानपुर में शिखर ब्रांड पान मसाला एवं तंबाकू उत्पादों के निर्माताओं के कारखाना परिसरों, मेसर्स गणपति रोड कैरियर्स, ट्रांसपोर्ट नगर, कानपुर के कार्यालय/गोदामों, और मेसर्स ओडोकेम इंडस्ट्रीज, परफ्यूमरी कंपाउंड्स के आपूर्तिकर्ताओं के कानपुर एवं कन्नौज स्थित आवासीय/कारखाना परिसरों में तलाशी अभियान शुरू किया। मेसर्स गणपति रोड कैरियर्स द्वारा संचालित 4 ट्रकों, जिनके जरिए जीएसटी का भुगतान किए बिना ही उक्त ब्रांड के पान मसाला और तंबाकू उत्‍पाद ढोये जा रहे थे, को रोके जाने के बाद अधिकारियों ने कारखाने में उपलब्ध वास्तविक स्टॉक का मिलान खाता-बही में दर्ज स्टॉक के साथ किया और कच्चे माल एवं तैयार उत्पादों की कमी पाई। यह भी पुष्टि की गई कि संबंधित निर्माता उस ट्रांसपोर्टर की मदद से इस माल को गुप्त रूप से हटाने में लिप्त था, जो उक्त माल की ढुलाई का इंतजाम करने के लिए फर्जी इन्‍वॉयस जारी करता था। शिखर ब्रांड पान मसाला/तंबाकू उत्पादों के निर्माताओं ने स्वीकार किया है और अपनी कर देनदारी के रूप में 3.09 करोड़ रुपये की रकम जमा की है। 143, आनंदपुरी, कानपुर में स्थित मेसर्स ओडोकेम इंडस्ट्रीज के भागीदारों के आवासीय परिसरों में शुरू की गई तलाशी कार्यवाही उस समय से लेकर अब तक समाप्त हो गई है। इस परिसर से बरामद और जब्त की गई कुल बेहिसाबी नकदी 177.45 करोड़ रुपये है। यह सीबीआईसी के अधिकारियों द्वारा नकदी की अब तक की सबसे बड़ी जब्ती है। इन परिसरों से जब्त समस्‍त दस्तावेजों की जांच की जा रही है।

- Advertisement -spot_imgspot_img

ताजा खबरे