Wednesday, February 21, 2024
spot_imgspot_img

पाइल्स की समस्या से है परेशान तो आजमा सकते है ये नुस्खा!

हेल्थ डेस्क: पाइल्स (Piles)आजकल आम समस्या बन चुकी है. लगातार कब्ज और गलत लाइफस्टाइल के चलते लोगों को बवासीर की परेशानी हो जाती है और फिर उठना बैठना तक मुहाल हो जाता है. कई बार बवासीर जब खूनी बवासीर या फिशर बन जाती है तो इतना खून निकलता है कि शरीर में खून की कमी तक हो जाती है. यूं तो बवासीर के लिए कई तरह के इलाज और सर्जरी मौजूद हैं लेकिन फिर भी लोग बवासीर के लिए साइड इफेक्ट रहित आयुर्वेदिक इलाज (Ayurvedic Remedy for Piles) खोजते हैं. आज हम आपको बता रहे हैं एक ऐसे ही आयुर्वेदिक नुस्खे के बारे में जिसे फॉलो करके आप बवासीर से राहत पा सकते हैं.

अतिबला के नुस्खे से मिलेगी पाइल्स से राहत
बवासीर के लिए ये नुस्खा पूरी तरह आयुर्वेदिक है. Abhyasa Yogshala नाम के इंस्टा अकाउंट से इस देसी नुस्खे का वीडियो शेयर किया गया है. इसमें अतिबला नाम के पौधे के फूल का इस्तेमाल किया जाता है. आपको दुकान से या ऑनलाइन अतिबला के सूखे बीज मिल जाएंगे. इन बीजों को अतिबला के सूखे फूल से निकाला जाता है. कहा जाता है कि इस सूखे फूल को हाथ में लेने से हल्की सी खुजली होती है. आयुर्वेद में अतिबला के बीजों को बवासीर के लिए रामबाण औषधि कहा गया है. कहा जाता है कि खूनी बवासीर हो या फिर मस्से वाली बवासीर, दोनों ही तरह की परेशानी में ये नुस्खा काफी कारगर साबित होता है.

एक्सपर्ट बता रहे हैं पाइल्स का देसी इलाज
अतिबला के सूखे फूल के बीज बतौर औषधि पंसारी की दुकान से मिल जाएंगे. आप चाहें तो आयुर्वेद की दुकान से भी इनको ले सकते हैं. इसके सूखे बीजों को अच्छी तरह पीस कर पाउडर बना लीजिए और किसी कांच के जार में भरकर रख लीजिए. अब दिन में तीन बार आधा आधा चम्मच इस पाउडर को सादे पानी के साथ फांक लेनी है. इस नुस्खे को फॉलो करते समय आपको ध्यान रखना है कि इसे खाने के एक घंटे बाद तक आपको कुछ भी नहीं खाना है. हेल्थ एक्सपर्ट कहते हैं कि अतिबला के बीजों का नुस्खा किसी भी प्रकार की बवासीर में काफी लाभ देता है.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

- Advertisement -spot_imgspot_img

ताजा खबरे