Friday, June 14, 2024

नेता पर चढ़ा फोटो खिंचवाने का भूत, फुटबॉल खिलाड़ी सुनील छेत्री के साथ किया ऐसा व्यवहार, वीडियो वायरल

- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_img

नई दिल्ली. बेंगलुरू एफसी ने मुंबई सिटी एफसी को 2-1 से हराकर रविवार (18 सितंबर) को सॉल्ट लेक स्टेडियम में अपना पहला डूरंड कप फुटबॉल टूर्नामेंट खिताब जीत लिया है. बेंगलुरू एफसी के करिश्माई कप्तान सुनील छेत्री का भी यह पहला डूरंड कप खिताब है, लेकिन खिताब जीतने के बाद उनका अपमान हुआ है, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

यह कोई रहस्य नहीं है कि क्रिकेट भारत में नंबर एक खेल है और इस खेल की लोकप्रियता और फैंटेसी के करीब भी कुछ नहीं आता है. अन्य खेल अभी भी अपनी जगह बनाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं. सुनील छेत्री के नेतृत्व वाली भारतीय फुटबॉल टीम में हाल के दिनों में सुधार हुआ है और इसका काफी श्रेय कप्तान को जाता है. सुनील छेत्री न केवल अरबों लोगों के लिए प्रेरणा रहे हैं, बल्कि उन्होंने देश में इस खेल की लोकप्रियता को बढ़ाने में भी मदद की है. बावजूद इसके डूरंड कप फाइनल के बाद रविवार को साल्ट लेक स्टेडियम में जो हुआ वह बेहद दुखद है.

दरअसल, डूरंड कप में विजयी होने के बाद जब सुनील छेत्री ट्रॉफी लेने के लिए स्टेज पर गए तो उनका अपमान किया गया. प्रतिष्ठित ट्रॉफी प्राप्त करते समय सुनील छेत्री को पश्चिम बंगाल के राज्यपाल ला गणेशन ने धक्का दे दिया. सोशल मीडिया पर सुनील छेत्री के अपमान का यह वीडियो वायरल हो रहा है. इस वीडियो पर पूर्व क्रिकेटर और वर्तमान में कमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने भी कमेंट किया है. आकाश चोपड़ा ने इसे शर्मनाक बताया है.

बता दें कि सिर्फ सुनील छेत्री का अपमान ही नहीं हुआ बल्कि मैच के हीरो रहे शिव शक्ति को भी इस तरह की बेइज्जती का सामना करना पड़ा है.

ताजा खबरे