Monday, February 6, 2023
spot_imgspot_img

संबित पात्रा ने दिया केजरीवाल के आरोपों पर जवाब, जाने क्या कहा?

भारतीय जनता पार्टी के नेता संबित पात्रा ने आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के आरोपों का जवाब दिया है. अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा, ‘इतिहास में सबसे कम समय के अंदर अगर किसी भी चुनी हुई सरकार में सबसे ज्यादा मंत्रियों को भ्रष्टाचार के आरोप के कारण इस्तीफा देना पड़ा हो तो अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (AAP) ही है.’
 
भ्रष्टाचारी को कैसे दें भारत रत्न: BJP
केजरीवाल सरकार पर आरोप लगाते हुए संबित पात्रा ने कहा, ‘दिल्ली के ऊपर लगभग 3 हजार करोड़ का कर्ज है. जब आप 144 करोड़ रुपए शराब ठेकेदारों का माफ कर देंगे. सरकारी पैसे को घोटालों में उड़ाएंगे. यानी जिस तरह से आप बिजली घोटाला कर रहे हैं, DTC में कई हजार करोड़ का घोटला कर रहे हैं. तो ये कर्ज तो होगा ही.’
 
बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने पूछा कि जेल जाने वाले सत्येंद्र जैन को भारत रत्न कैसे दें? बता दें कि सीएम केजरीवाल ने सत्येंद्र जैन को भारत रत्न देने की मांग की थी.
 
खुद को भगवान समझते हैं केजरीवाल: पात्रा
संबित पात्रा ने कहा कि अरविंद केजरीवाल भारतीय राजनीति के पहले नेता हैं जो खुद को भगवान समझते हैं. ऐसा तो महात्मा गांधी ने भी नहीं किया था.
 
‘आत्ममुग्धता से भरे केजरीवाल’
गुजरात में एक्टिव दिल्ली के सीएम पर तंज कसते हुए पात्रा ने कहा कि सीएम केजरीवाल आत्ममुग्धता से भरे हुए हैं. जब किसी राज्य में चुनाव आता है तो अरविंद केजरीवाल की नौटंकी शुरू हो जाती है. वो कहते हैं कि सर्वे आ गया है मैं जीत गया हूं. ऐसा ही हिमाचल और उत्तराखंड में बोल रहे थे. आज पता नहीं आम आदमी पार्टी वहां कहां है. 
 
‘न्यायपालिका से बड़ा नहीं इनका सर्टिफिकेट’
बीजेपी नेता संबित पात्रा ने कहा, ‘अरविंद केजरीवाल और उनकी पार्टी के नेता जो कह दें वही सही हो, ऐसा नहीं हो सकता. लगता है कि इन्हें न्यायपालिका से ज्यादा अपने खुद के सेल्फ सर्टिफिकेट का भरोसा है.’
 
आम आदमी पार्टी को कुचलने की कोशिश: केजरीवाल
गौरतलब है कि आज आम आदमी पार्टी ने प्रथम राष्ट्रीय जन प्रतिनिधि सम्मेलन का आयोजन किया. इस सम्मेलन में मुख्य रूप से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. इस दौरान सीएम केजरीवाल ने कहा कि बीजेपी, आम आदमी पार्टी को कुचलने की कोशिश कर रही है, लेकिन इन्हें ये नहीं पता कि हमारे नेता कट्टर ईमानदार हैं.
- Advertisement -spot_imgspot_img

ताजा खबरे