Monday, May 27, 2024

अहमद हसन हत्याकांड: पुलिस ने पत्नी और साले को किया अरेस्ट! चचेरे भाई-बहन के बीच चल रहा था अफेयर

- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_img

उत्तराखंड के बाजपुर में हुई अहमद हसन की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने अहमद हसन की हत्या के आरोप में उसकी पत्नी और साले को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि अहमद हसन की पत्नी का अपने चचेरे भाई के साथ अफेयर चल रहा था। इसीलिए दोनों ने साथ मिलकर अहमद हसन की हत्या कर दी। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है।

जनपद ऊधम सिंह नगर के बाजपुर में बीती 4 अगस्त हुई अहमद हसन की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। इस मामले में पुलिस ने बताया कि अहमद हसन की पत्नी ने ही अपने चचेरे भाई के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया था। अहमद हसन की पत्नी रुबीना का अपने चचेरे भाई के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। इस कारण उन्होंने अहमद हसन को रास्ते से हटाने की योजना बनाई। प्लान के तहत ही दोनों ने अहमद हसन की हत्या कर दी। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया कि रुबीना और उसके प्रेमी का जो रिश्ते में चचेरा भाई भी लगता है दोनों की योजना अहमद हसन की हत्या के बाद उसकी प्रॉपर्टी हड़पने की थी। ऊधम सिंह नगर एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने पूरे मामले का खुलासा किया। पुलिस ने बताया कि बाजपुर के केशोवाला में रहने वाले अहमद हसन की बीती चार अगस्त को संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। पत्नी रुबीना का कहना था कि पति अहमद हसन ने तबीयत खराब होने पर दवा खाई थी जिसके बाद उनकी मौत हो गई थी। हालांकि अहमद हसन के घरवालों को रुबीना की बात पर यकीन नहीं था। इसीलिए अहमद हसन के चचेरे भाई आसिम ने पुलिस को तहरीर दी थी। तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में अहमद की मौत दवा खाने के बाद न होकर दम घुटने से निकली। इसके बाद पुलिस ने पूरे मामले की जांच पड़ताल शुरू की तो पूरा सच सामने आ गया। पुलिस ने बताया कि अहमद हसन 2 साल पहले सितंबर में देश से बाहर बहरीन गया था। वहां से वापस लौटने पर ससुराल के पास ही मकान बनाकर रहने लगा और गांव में ही मेडिकल स्टोर भी खोल लिया। वहीं 8 महीने पहले अहमद हसन की पत्नी रुबीना का अपने रिश्ते के भाई दानिश के साथ मेलजोल हो गया। धीरे-धीरे दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ने लगीं और बात प्यार तक पहुंच गई थी। इसी बीच फरवरी साल 2023 में दानिश सऊदी अरब चला गया। इस दौरान दानिश की रुबीना से व्हाट्सएप पर लगातार बात होती रही। जब दानिश सऊदी अरब से लौटा तो उसने और रुबीना ने अहमद हसन को रास्ते से हटाने की योजना बनाई। अहमद हसन को मारने के पीछे की एक बड़ी वजह ये भी थी कि हसन अब दुबई वापस नहीं जाना चाहता था वो बाजपुर में कोई कारोबार करके अपने परिवार के साथ जीवन बिताने का मन बना चुका था। जिसके लिए उसने मेडिकल स्टोर भी खोला था जो रुबीना और दानिश को गवारा नहीं था। क्योंकि हसन के यहां रहने से दोनों के प्यार में खल्ल पड़ रहा था। योजना के तहत दोनों ने तकिये से हसन की गला घोंटकर हत्या कर दी और उसे एक सामान्य मौत दिखाने का प्रयास किया। पुलिस ने बताया कि मामले खुलने के बाद दानिश सऊदी अरब भागने की फिराक में था जिसे पुलिस ने बाजपुर से दिल्ली जाते समय ही गिरफ्तार कर लिया।

ताजा खबरे