Sunday, January 29, 2023
spot_imgspot_img

इंडियास्किल्स राष्ट्रीय प्रतियोगिताः 270 विजेताओं को स्वर्ण, रजत, कांस्य और उत्कृष्टता पदकों से नवाजा गया

नई दिल्ली। भारत सरकार के कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय (एमएसडीई) के सचिव राजेश अग्रवाल के 150 से अधिक प्रतिभागियों को सम्मानित करने के साथ, देश की सबसे बड़ी कौशल प्रतियोगिता इंडियास्किल्स 2021 नेशनल्स का आज समापन हो गया। कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के मार्गदर्शन में राष्ट्रीय कौशल विकास निगम द्वारा आयोजित प्रतियोगिता में कंक्रीट निर्माण कार्य, सौंदर्य चिकित्सा, कार पेंटिंग, स्वास्थ्य और सामाजिक देखभाल, दृश्य बिक्री उत्पाद, ग्राफिक डिजाइन प्रौद्योगिकी, दीवार और फर्श टाइलिंग, वेल्डिंग, आदि जैसे 54 कौशलों में भागीदारी की गई।युवाओं की क्षमता और पहचान को बढ़ावा देने वाली इंडियास्किल्स प्रतियोगिता में इस वर्ष 26 राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों के 500 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया। स्थानीय अधिकारियों और दिल्ली सरकार द्वारा अनिवार्य कोविड-19 दिशा-निर्देशों के तहत 7 से 9 जनवरी तक प्रगति मैदान और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के ऑफसाइट स्थलों सहित कई स्थानों पर कौशल प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं। इसके अलावा, आगंतुकों/दर्शकों के लिए प्रतिबंध, पर्याप्त सामाजिक दूरी और प्रतियोगिता परिसर की निरंतर स्वच्छता बनाए रखने जैसे सभी सुरक्षा प्रोटोकॉलों का पालन किया गया। प्रतिभागियों को पृथक रखने के लिए 3 से 5 जनवरी तक बेंगलुरु और मुंबई में आठ कौशल प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं। 150 से अधिक विजेताओं में से 59 को 100,000 रुपये की नकद पुरस्कार राशि के साथ स्वर्ण पदक से सम्मानित किया गया, 73 को 75,000 रुपये की पुरस्कार राशि के साथ रजत पदक और 53 को 50,000 रुपये की नकद पुरस्कार राशि के साथ कांस्य पदक से सम्मानित किया गया। 50 से अधिक प्रतिभागियों ने उत्कृष्टता पदक हांसिल किया। इस वर्ष की इंडियास्किल्स प्रतियोगिता ने अगस्त-सितंबर 2021 में 2.5 लाख से अधिक पंजीकरणों के साथ कौशल विकास के क्षेत्र में उत्कृष्टता के स्तर को हासिल किया है। कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के सचिव राजेश अग्रवाल ने इंडियास्किल्स राष्ट्रीय प्रतियोगिता में भागीदारी करने वाले उम्मीदवारों की प्रतिभा, उत्साह और दृढ़ता को देखते हुए अपनी प्रसन्नता व्यक्त करते हुए सभी विजेताओं और प्रतिभागियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि सरकार, उद्योग और विशेषज्ञ यह सुनिश्चित करने के लिए मिलकर कार्य करेंगे कि टीम इंडिया इस वर्ष के अंत में शंघाई, चीन में आयोजित होने वाली वर्ल्डस्किल्स अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए आवश्यक प्रशिक्षण और उपकरणों से सुसज्जित हो। राष्ट्रीय कौशल विकास निगम के मुख्य परिचालन अधिकारी और कार्यवाहक मुख्य कार्यकारी अधिकारी वेद मणि तिवारी ने कहा कि कौशल अवसरों का सृजन करते हैं, समाज का निर्माण करते हैं और आर्थिक विकास को बढ़ावा देते हैं। कौशल प्रतियोगिताएं व्यक्तियों के जीवन में कौशल के महत्व के विषय में जागरूकता बढ़ाने और भविष्य के रोजगारों और चुनौतियों के लिए उन्हें तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। उन्होंने कहा कि आधुनिक युग के कौशलों के सामने आने से स्पष्ट होता है कि कैसे इंडियास्किल्स प्रतियोगिता भविष्य के लिए प्रासंगिक ट्रेडों और रोजगार की भूमिकाओं के लिए अपडेट होती है। उन्होंने कहा कि यह निश्चित रूप से हमें सर्वोच्च स्थान पर रखेगा और अन्य युवाओं को इन कौशलों में व्यवसाय निर्धारित करने पर विचार करने के लिए प्रेरित करेगा।

- Advertisement -spot_imgspot_img

ताजा खबरे