Sunday, January 29, 2023
spot_imgspot_img

कॉलेज के गेट से छात्रा का किया किडनैप, हुआ गैंगरेप, SHO ने नहीं लिखी पीड़िता की शिकायत, SP से मदद मांगी

भरतपुर। राजस्थान के भरतपुर से दलित लड़की के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि लड़की को पहले कॉलेज के गेट से किडनैप किया गया. फिर जंगल में ले जाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। घटना के बाद जब पीड़िता थाने में एफआईआर दर्ज कराने पहुंची तो उच्चैन थाना प्रभारी श्रवण पाठक ने पीड़िता की एफआईआर दर्ज करने से मना कर दिया। इसके बाद पीड़िता एसपी देवेंद्र विश्नोई के पास पहुंची और पूरी घटना के बारे में बताया। इस पर एक्शन लेते हुए एसपी ने शुक्रवार देर रात उच्चैन थाना अधिकारी को सस्पेंड कर दिया।

SHO ने नहीं लिखी गैंगरेप पीड़िता की शिकायत

भरतपुर के एक कॉलेज पढ़ने वाली 19 साल की बीए प्रथम वर्ष की छात्रा को कॉलेज के गेट के बाहर से ही गांव के दो युवक अपहरण कर बाइक पर उठा ले गए, जहां जंगल में जाकर दोनों युवकों ने छात्रा के साथ दुष्कर्म किया और फिर उसे गांव के जंगल में छोड़ कर फरार हो गए। पीड़िता का आरोप है कि जब वो अपने परिजनों के साथ थाने में शिकायत दर्ज कराने पहुंची तो पुलिस ने उसकी शिकायत नहीं लिखी और SHO ने डांट कर उन्हें भगा दिया।

कॉलेज के गेट से किया छात्रा का अपहरण

बताया जा रहा है कि 4 दिन पहले गांव के पास स्थित एक निजी कॉलेज में छात्रा पढ़ने के लिए गई थी और उस दिन परिजन रिश्तेदारी में हुई किसी कार्यक्रम में शामिल होने गए थे। तभी कॉलेज के गेट से पहले ही गांव के दो युवकों ने छात्रा का अपहरण किया और उसे मोटरसाइकिल पर बैठकर जंगल ले गए। जहां दोनों युवकों ने पीड़ित छात्रा के साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया।

शिकायत न लिखने पर SHO सस्पेंड

इस मामले पर जिला पुलिस अधीक्षक देवेंद्र कुमार विश्नोई ने बताया कि एक छात्रा के साथ दुष्कर्म हुआ था और जब वह थाने पहुंची तो थाना प्रभारी ने शिकायत दर्ज नहीं की। इस मामले में थाना प्रभारी की लापरवाही सामने आई और पीड़िता ने मुझसे मिलकर शिकायत दर्ज कराई। लापरवाही बरतने के मामले में थाना प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है। मामले की जांच उप जिला पुलिस अधीक्षक को सौंपी गई है।

- Advertisement -spot_imgspot_img

ताजा खबरे